सुरेंद्र कौर खंडूजा

जन्म:  9 नवंबर, स्थान: कलोल, जि.-मेहसाणा (गुजरात). माता: श्रीमती जसवंत कौर खंडूजा, पिता: श्री सरदार ईश्वर सिंह खंडूजा. शिक्षा: एम.ए. (हिन्दी, राजनीति विज्ञान), बी.एड.  व्यवसाय: सेवानिवृत्त शिक्षिका/समाज सेवा/ संस्थापक सदस्य एवं सचिव-.‘उड़ान’ (सामाजिक सरोकारों से जुड़ी संस्था). करियर यात्रा: सेवाकाल का आरंभ एक निजी संस्था आराधना विद्यालय, परासिया से किया. शासकीय सेवा में नियुक्ति अक्टूबर 1984 में शासकीय प्राथमिक शाला खिरसाडोह ढाना में हुई. कुछ माह पश्चात शासकीय उच्चतर माध्यमिक कन्या शाला परासिया में तबादला और सेवानिवृत्ति तक इसी विद्यालय में सेवाएं दीं. वर्ष 2012 में ‘उड़ान’ सामाजिक संस्था का गठन कर समाजसेवा, महिला एवं बाल विकास, पर्यावरण संवर्द्धन, संरक्षण हेतु विभिन्न गतिविधियां निरंतर जारी. वर्तमान में जिला प्रशासन द्वारा स्थानीय परिवाद समिति की सदस्य नामित होकर सेवाएं प्रदान कर रही हैं. उपलब्धियां/पुरस्कार: राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित (5 सितंबर 2001 नई दिल्ली), मप्र शासन द्वारा सम्मानित (5 सितंबर 2002 भोपाल), राष्ट्रीय सेवा योजना विशेष शिविर में सर्वश्रेष्ठ महिला शिविर के आयोजन हेतु तत्कालीन वित्त मंत्री (मप्र. शासन) श्री अजय मुशरान द्वारा सम्मानित (26 जनवरी 1998), श्री दीपक सक्सेना प्रभारी मंत्री द्वारा सम्मानित- सर्वश्रेष्ठ महिला शिविर (रा.से.यो.) छिंदवाड़ा, म.प्र. महिला नीति विचार विमर्श हेतु मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ सीधी बातचीत हेतु चयनित, सतत् क्रियाशीलता के लिए यूनिटी अवार्ड से सम्मानित, सर्वश्रेष्ठ लायनेस अध्यक्ष अवार्ड (एरिया 323/ब) वर्ष 2005-06 जबलपुर, फाइव स्टार एरिया ऑफिसर अवार्ड (लायनेंस डिस्ट्रिक्ट 323/ब) वर्ष 2006-07 कटनी, सर्वश्रेष्ठ डिस्ट्रिक्ट चेयर पर्सन अवार्ड- छिंदवाड़ा, दिव्यांग बच्चों के हितार्थ कार्यो हेतु सम्मानित, शिक्षा सुरभि सम्मान-होशंगाबाद, राज्यसभा सदस्य सुश्री अनुसुईया उइके द्वारा परिवार परामर्श केन्द्र श्रेष्ठ काउन्सलर सम्मान. परिवार परामर्श केन्द्र – राज्य स्तरीय प्रशिक्षण शिविर (प्रशासनिक अकादमी भोपाल) में सहभागिता, विभिन्न समाचार पत्र-पत्रिकाओं में लेख, लघु कथाएं, कविताएं सतत प्रकाशित. रुचियां: साहित्य पढ़ना, लघुकथा, कविता, आलेख, कहानियां लिखना, समाज सेवा-महिलाओं, बालिकाओं के हितार्थ योजनाओं का क्रियान्वयन, पर्यटन. अन्य जानकारी: अध्यापन कार्य के साथ-साथ सामाजिक, साहित्यिक, पर्यावरणीय गतिविधियों में सक्रियता से जुड़ी रहीं. वर्ष 1996 में राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम अधिकारी का पदभार ग्रहण करने के बाद विभिन्न ग्रामों में विशेष दस दिवसीय शिविरों का आयोजन, ग्रामीणों की समस्याओं का समाधान करने का प्रयास करना एक सुखद अनुभव था. सहायक नोडल अधिकारी एवं मास्टर ट्रेनर-राष्ट्रीय हरित कोर, वरिष्ठ काउन्सलर-परिवार परामर्श केन्द्र परासिया (जिला छिंदवाड़ा, 2006-2016), दिव्यांग छात्रों की समेकित शिक्षा योजना की विकासखण्ड प्रभारी, सदस्य- सलाहकार समिति केन्द्रीय विद्यालय बड़कुही (2008-2013),  रेल्वे सलाहकार बोर्ड (2010-12), विधिक सहायता प्रकोष्ठ परासिया, जिला प्रशासन द्वारा डाइट सलाहकार समिति सदस्य (2006-09), महिला उत्पीड़न निवास प्रकोष्ठ सदस्य विकासखण्ड स्तरीय समिति (2004-05). महिला उत्पीड़न निवारण प्रकोष्ठ, परिवार परामर्श केन्द्र परासिया की वरिष्ठ परामर्शदाता.  पता: सी-307, परासिया रोड, श्री कृष्णा टावर के सामने, त्रिमूर्ति अपार्टमेंट, छिंदवाड़ा, म.प्र. ई-मेल: perneet.singh@gmail.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp