सीमा शर्मा

जन्म: 22 अक्टूबर, स्थान: देवसर (सिंगरौली). माता: श्रीमती विद्या शर्मा, पिता: श्री भुल्लन प्रसाद शर्मा. जीवन साथी: मिथिलेश कुमार तिवारी. संतान: पुत्री -01. शिक्षा: बी.एड., एम.ए. व्यवसाय: अध्यापन. करियर यात्रा: म.प्र. के छोटे से कस्बे देवसर में जन्म एवं शिक्षा, 1995 में विज्ञान संकाय से 12वीं उत्तीर्ण करने के बाद कस्बे से बाहर जाकर आगे की पढ़ाई इसी संकाय से करना सम्भव न हो सका और इन्हें कला संकाय के साथ शासकीय महाविद्यालय देवसर से ही स्नातक (1997) करना पड़ा. 98 से 2000 तक प्रायवेट स्कूल में अध्यापन कार्य किया और साथ में एम.ए. (राजनीति शास्त्र, हिन्दी साहित्य, शिक्षा शास्त्र) की डिग्री भी हासिल की. 2001 में संविदा भर्ती के जरिये अध्यापक बनी. वर्तमान में शा. उ. मा. विद्यालय विन्ध्यनगर (सिंगरौली) में पदस्थ हैं. पढ़ने-पढ़ाने और कविताएं आदि लेखन कार्य भी जारी. पहली कहानी “मैं रेजा और पच्चीस जून” जनसत्ता में प्रकाशित हुई, यहीं से साहित्यिक जीवन प्रारम्भ हुआ. उपलब्धियां/पुरस्कार: कहानी संग्रह “भेड़ियों का पोशम्पा”, हिन्दी अकादमी दिल्ली द्वारा कहानी “रोशनी” का नाट्य मंचन, साहित्यिक पत्रिका “नया साहित्य निबंध” में सम्पादकीय सहयोग, साहित्य भण्डार इलाहाबाद द्वारा मीरा स्मृति पुरस्कार (2018), भारत की प्रतिष्ठित पत्र-पत्रिकाओं (इंद्रप्रस्थ भारती, कथाक्रम, कथादेश, परिकथा, जनसत्ता, नया साहित्य निबंध, ककसाड़, दुनिया इन दिनों और वेब मैगज़ीन- आंच, मातृभारती, हमरंग) में कहानियां प्रकाशित. रुचियां: लेखन (कहानी, कविता, उपन्यास), अध्ययन, अध्यापन, पर्यटन, प्रकृति को करीब से समझना. पता: 1/186, एन.टी.पी.सी. कॉलोनी, विन्ध्यनगर, सिंगरौली म.प्र.- 85. ई-मेल: seemasharmat1@gmail.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp