संगीता अग्रवाल

जन्म: 19 अक्टूबर, स्थान: झारसुगुडा (उड़ीसा). माता: श्रीमती शकुन्तला देवी. पिता: श्री सीताराम बोंदिया. जीवन साथी: श्री सतीश अग्रवाल. सन्तान: पुत्र -02. शिक्षा: एम.ए. (मनोविज्ञान), एल.एल.बी. व्यवसाय: संस्थापक- कौशलम् (आर्ट एंड  क्राफ्ट)/वकील/स्वतंत्र कलाकार. करियर यात्रा: वर्ष 2005 में रत्नी रामफल अग्रवाल सेवा संघ की (एनजीओ) की स्थापना की. वर्ष 2014 में कौशलम संस्था की स्थापना कर कला और शिल्प का प्रशिक्षण देना प्रारम्भ किया. साथ ही संस्था में महाराष्ट्र की जनजातीय शैली वारली में हस्तशिल्प वस्तुओं (जैसे बैग, आभूषण, लिफाफे और कई अन्य उत्पाद) का निर्माण भी शुरू किया. वर्तमान में कला और शिल्प प्रशिक्षण के साथ ही रिसायकल टू सेव रिसोर्स फाउंडेशन (एनजीओ), जबलपुर में वर्ष 2016 से कैशियर के रूप में कार्यरत. उपलब्धियां/पुरस्कार: अखिल भारतीय चित्र एवं मूर्तिकला परिषद रायपुर द्वारा 2 बार बेस्ट आर्टिस्ट ऑफ़ द ईयर, झारसुगुडा कला एकेडमी (उड़ीसा) द्वारा मास्टर क्राफ्टमेनशिप अवार्ड, ऑल इंडिया आर्ट एंड स्कल्पचर प्रतियोगिता रायपुर में बेस्ट आर्टिस्ट अवार्ड (1992) सहित पारंपरिक कला और शिल्प की विभिन्न प्रतियोगिताओं में 55 से अधिक पुरस्कार प्राप्त. विदेश यात्रा: अमेरिका, यू.के, ज़िम्बाव्वे. रुचियां: मेहंदी, सिलाई, क्राफ्ट, अनुपयोगी वस्तुओं से नई-नई कलात्मक चीजें बनाना. अन्य जानकारी: पूर्व उपाध्यक्ष – रिसायकल टू सेव रिसोर्स फाउंडेशन, जबलपुर. डॉ हीरालाल राय आर्ट गैलरी जबलपुर में पेंटिंग प्रदर्शनी की मेजबानी, अभिव्यक्ति द्वारा आयोजित पेंटिंग एग्जीबिशन 2015 और 2016 में भागीदारी. गरीब लड़कियों को उनकी योग्यता के अनुसार अलग-अलग व्यावसायिक प्रशिक्षण (मेहंदी, पेंटिंग सिलाई आदि) देकर उन्हें रोजगार उपलब्ध कराना. पता: बी- 105, कचनार सांभार, जबलपुर नेपियर टाउन, जबलपुर-01. ई-मेल: kaushalam19@gmail.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp