श्रीमती वीणा जैन

जन्म:  दिसंबर, स्थान: नागपुर, (महा.). माता: श्रीमती शकुंतला देवी, पिता: श्री जमना लालजी. जीवन साथी:  श्री शरद जैन. संतान: पुत्र  01, पुत्री -01. शिक्षा: बी.ए. (मनोविज्ञान, गृह विज्ञान, हिन्दी साहित्य). करियर यात्रा: सरस्वती शिशु मंदिर खण्डवा में मानद संगीत शिक्षिका के रूप में सेवाएं. 1978 में खण्डवा जेसीज के व्यक्तित्व विकास पाठ्यक्रमों से व्यक्तित्व विकास का प्रशिक्षण प्राप्त किया. अध्यक्ष- लायनेस खण्डवा (86-87), सहसचिव- सेवा भारती के अंतर्गत संचालित केशव सेवा धाम विकलांग आश्रम खण्डवा, संस्थापक (90-94), अध्यक्ष- नगर सेवा समिति मर्यादित खण्डवा (99-2006) वर्तमान में 2013 से, अध्यक्ष- हिन्दू बाल सेवा सदन (अनाथ एवं असहाय निराश्रित बालकों की संस्था) (वर्ष 14-17),  सदस्य: इनरव्हील क्लब खण्डवा (09-10), किशोर न्याय बोर्ड (11-16), सलाहकार सदस्य- कुटुंब न्यायालय (2017), अध्यक्ष- सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित फेमिली वेलफेयर कमेटी (2017 से), विगत 30 वर्षों से सांस्कृतिक, साहित्यिक, सामाजिक गतिविधियों में सक्रिय भागीदारी. उपलब्धियां/पुरस्कार: सम्मान- लायनेस क्लब खण्डवा (2010), सत्य सांई सेवा समिति (2011), खण्डवा डायोसिस सोशल सर्विसेस (2012), म.प्र. लेखक संघ ((2013), सेवा पथिक सम्मान सेवा भारती इंदौर द्वारा (2016), दिग. जैन सोशल ग्रुप खण्डवा द्वारा समाज गौरव सम्मान (2017). रुचियां: साहित्य, संगीत, नाट्य कला, संस्कृति संवर्धन, सामाजिक कार्य, धार्मिक ग्रंथों का अध्ययन. विदेश यात्रा: सिंगापुर, मलेशिया, थाईलैंड. अन्य जानकारी: लोक संस्कृति न्यास-पं. रामनारायण उपाध्याय शताब्दी वर्ष में शरद जैन एवं वीणा जैन को संयुक्त रूप से सिंघाजी सम्मान (2018), बालकों के उत्थान के लिए कार्यरत ताकि जिन बालकों को शिक्षा-दीक्षा नहीं मिल रही, वे योग्य नागरिक बन सकें.  पता: “मार्दव” 51, सेठीनगर, खण्डवा, (म.प्र.). ई मेल: jveena1@gmail.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp