श्रीमती प्रज्ञा रावत

जन्म: 02 दिसंबर, स्थान: झांसी, माता: श्रीमती चंद्रकांता रावत, पिता: श्री भगवत रावत, जीवन साथी: स्व. श्री सलिल कौशिक. संतान: पुत्र -02. शिक्षा: एम.ए.(अंग्रेजी), बी.एड.,पी.एच.डी. व्यवसाय: अध्यापन-एसोसिएट प्रोफेसर (अंग्रेजी). करियर यात्रा: लगभग चालीस वर्ष की आयु से लेखन प्रारम्भ, अब तक एक कविता संग्रह “जो नदी होती” प्रकाशित और पुरस्कृत. सम्पादन- यह महज कोरा कागज नहीं, विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में लेख प्रकाशित. थियेटर में गायन-ब.व. कारंत के निर्देशन में. उपलब्धियां/पुरस्कार: साहित्य सुरभि अलंकरण (2010), वागीश्वरी सम्मान (म.प्र. हिन्दी साहित्य सम्मेलन 2014), डॉ. सुषमा तिवारी सम्मान (दुष्यंत कुमार  पांडुलिपि संग्रहालय 2018). विदेश यात्रा: सिंगापुर. रुचियां: कविता-आलोचना तथा साहित्य के पठन-पाठन में विशेष रुचि, गायन व थियेटर विधा में गहन रुचि. अन्य जानकारी: देश की पहली संस्कृत फिल्म आदि शंकराचार्य में गायन. पता: जे.एच.- 45, गोमंतिका परिसर, जवाहर चौक, भोपाल -03. ई-मेल: pragyarawat61@gmail.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp