मणिमाला सिंह

जन्म: 10 अक्टूबर, स्थान: बरहना (सतना). माता: श्रीमती ललन कुमारी सिंह, पिता: श्री. राम शिरोमणि. जीवन साथी: हीरेंद्र प्रताप सिंह. संतान: पुत्र -02. शिक्षा: एम.ए. (राजनीति शास्त्र/इतिहास/ समाजशास्त्र), संगीत  प्रभाकर. व्यवसाय: पर्यवेक्षक (महिला बाल विकास परियोजना). आकाशवाणी रीवा में ‘ए ग्रेड’ कलाकार. करियर यात्रा: वर्ष 1990 में एक दूध डेयरी से व्यवसाय की शुरुआत. वर्ष 92 में आकाशवाणी रीवा में प्रस्तुत योजक. वर्ष 95 में आकाशवाणी रीवा में लोकगीत गायिका, वर्ष 2000 में पढ़ना-बढ़ना कार्य में शामिल. उपलब्धियां/पुरस्कार: बघेली गीतों का संकलन ‘नदिया किनारे हवा’ पुस्तक मध्यप्रदेश जनजातीय संग्रहालय द्वारा प्रकाशित. आकाशवाणी केंद्र रीवा, छतरपुर, भोपाल, इलाहाबाद, बनारस, ग्वालियर, औरंगाबाद एवं झांसी आदि केंद्रों में बघेली लोकगीतों की रंगारंग प्रस्तुति. आकाशवाणी केंद्र से प्रसारित संगीत रूपक एवं धारावाहिक में गायकी की प्रमुख भूमिका, विभिन्न कवि सम्मेलन एवं संगीत सम्मेलनों में सस्वर पाठ, प्रमुख समाचार पत्र-पत्रिकाओं में कविताओं एवं लेखों का नियमित प्रकाशन, दूरदर्शन केंद्र भोपाल में समूह के साथ लोकगीत व लोकनृत्य की प्रस्तुतियां, भारत भवन भोपाल में बघेली लोक गीतों की अनेक प्रस्तुतियां. सम्मान- बघेली लोक गीतों में  विंध्य  कोकिला  अलंकरण से विभूषित, आकाशवाणी औरंगाबाद द्वारा सांस्कृतिक सम्मान, श्री सेवा साधना संघ द्वारा उत्कृष्ट कार्यों हेतु सम्मानित एवं पुरस्कृत, विधायक राजेंद्र शुक्ला एवं विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम द्वारा विशेष सम्मान, ब्रह्मकुमारी विश्वविद्यालय माउंट आबू राजस्थान में गीतों की प्रस्तुति हेतु प्रमाण पत्र एवं विंध्य सांस्कृतिक सम्मान से सम्मानित सहित अनेक सम्मान तथा पुरस्कार प्राप्त. रुचियां: बघेली गीत-गायन, बघेली साहित्य रचना एवं समाज सेवा. अन्य जानकारी: वर्ष 1997 में लोकगीत कलाकारों की एक पार्टी बनाई जिसे आकाशवाणी रीवा ने अनुबंधित किया जो आज भी आकाशवाणी और दूरदर्शन की ‘ए ग्रेड’ पार्टी है, इसके साथ ही लोकनृत्य की पार्टी बनाकर करीब 40 लड़कियों को प्रशिक्षित किया. आकाशवाणी में ऑडिशन देने वाली लड़कियों को प्रशिक्षण कार्य जारी. पता: मझियार हाउस,  नरेंद्र नगर, रीवा -01, म.प्र. ई-मेल: manimala1010@gmail.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp