निवेदिता चक्रवर्ती

जन्म: 13 सितंबर, स्थान: जबलपुर. माता: श्रीमती सुभद्रा घोषाल, पिता: श्री स्व. माणिक घोषाल. जीवन साथी: श्री कृष्णेन्दु चक्रवर्ती. संतान: पुत्री -02. शिक्षा: विज्ञान स्नातक. व्यवसाय: संस्थापिका-निदेशिका युगानुगूँज प्रकाशन/ संस्थापक- ‘अनुगूँज’ ऑनलाइन पत्रिका. करियर यात्रा: 15  वर्ष भारतीय बीमा निगम और 12 वर्ष बजाज आलियांज लाइफ इंश्योरेंस कंपनी में ऑपरेशन्स, ट्रेनिंग एवं सेल्स विभागों में उच्च पदों पर कार्य किया.  जनवरी 2020 में अनुगूँज साहित्यिक और सांस्कृतिक समुदाय की आधारशिला रखी. वर्ष 2021 में प्रकाशन हाऊस युगानुगूँज प्रारम्भ किया. उपलब्धियां/सम्मान: प्रकाशन- स्वरचित कविताओं का काव्य संग्रह ‘मेरे हिस्से के नूर’ (2020). नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति की स्वरचित काव्य पाठ प्रतियोगिताओं में भारतीय जीवन बीमा निगम का वर्ष-दर-वर्ष प्रतिनिधित्व किया और अनेक पुरस्कार जीते. आकाशवाणी नजीबाबाद और आकाशवाणी दिल्ली से अनेक कार्यक्रम प्रसारित. राष्ट्रीय समाचार पत्रों और विभिन्न पत्रिकाओं में कविताएं प्रकाशित. लगातार काव्य सम्मेलनों और काव्य गोष्ठियों में शिरकत. विदेश यात्रा: लंदन, स्विट्जरलैंड, एथेंस, स्कॉटलैंड, बैंकॉक, सेंटोरिनी (ग्रीस). रुचियां: लिखना, पढ़ना, प्रेरक वक्ता, यात्रा करना, संगीत सुनना, बागवानी. अन्य जानकारी: हिंदी साहित्य की विभिन्न विधाओं में (कविता, कहानी, एकांकी, निबंध, लेख इत्यादि) लेखन. साहित्यिक संस्था ‘अनुगूँज’ की स्थापना के बाद से अब तक देश-विदेश के लगभग 6 हज़ार सदस्य बन चुके हैं. अभी तक 200 से अधिक लाइव कार्यक्रमों का आयोजन. पता: ए- 114, ग्रीनवुड्स सिटी, सेक्टर -45, गुड़गाँव. ई-मेल: nivedita.india1330@gmail.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp