देवकी भट्ट नायक

जन्म: 27 दिसम्बर, स्थान: ग्राम बडोली, पिथौरागढ़,(उत्तराखंड). माता: स्व. श्रीमती कमला देवी भट्ट, पिता: स्व. सूबेदार मेजर ऑनररी कैप्टन रुद्रदत्त भट्ट. संतान: पुत्रियां -03. शिक्षा: एम.ए. अर्थशास्त्र, अंग्रेज़ी साहित्य, हिन्दी साहित्य, पत्राचार द्वारा पत्रकारिता कोर्स. व्यवसाय: शिक्षक- हायर सेकेण्डरी स्कूल महारानी लक्ष्मी बाई सागर. शिक्षण कार्य के अतिरिक्त स्काउट गाइड रेंजर लीडर. करियर यात्रा: ग्रेजुएशन के बाद पुलिस में सब इंस्पेक्टर पद पर चयन, लेकिन विषम परिस्थिति के कारण नौकरी ज्वाइन नहीं कर पाईं. स्वाध्याय शिक्षण जारी रखते हुए वर्ष 1989-90 तक अर्थशास्त्र से एम.ए. और बी.एड.किया. जबकि हायर सेकेंडरी के पश्चात ही एमआरसी स्कूल, सागर में शिक्षक पद पर कार्य भी करती रहीं. वर्ष 1993 में ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड के तहत शिक्षा विभाग में शिक्षक पद पर चयन हुआ, पर कुछ विवादों के चलते चयन को रोक दिया गया फिर हाईकोर्ट के आदेश के बाद मालथौन सागर में इनकी नियुक्ति हुई. 2006 से समाज सेवा (विशेषकर महिलाओं के लिए) के कार्य में भी सक्रिय. नारी संबल, नवदुनिया, दैनिक आचरण, नाईस डे, अबला नहीं नारी, साहित्य सरस्वती नवोदित आदि पत्र-पत्रिकाओं में कहानियों-कविताओं का प्रकाशन. आकाशवाणी सागर से कहानियों का प्रसारण एवं दूरदर्शन भोपाल से बुन्देली कविता का प्रसारण, देश-प्रदेश में विभिन्न कहानी शिविर एवं गोष्ठियों में शिरकत कविता एवं कहानी पाठ. वर्तमान में अध्यापन कार्य और समाज सेवा के साथ लेखन कार्य भी जारी. उपलब्धियां/सम्मान: हायर सेकेण्डरी बोर्ड परीक्षा (11वीं) में प्रावीण्य सूची में उत्तीर्ण, एन.सी.सी. में सार्जेट, बेस्ट फायरिंग, डॉ. हरिसिंह गौर वि.वि. के कुलपति द्वारा उत्कृष्ट शिक्षक सम्मान, मंत्री कुसुम मेहदेले द्वारा महिला सशक्तिकरण सम्मान, स्थानीय विधायक द्वारा ज़िला स्तरीय शिक्षक सम्मान, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह द्वारा राज्यपाल शिक्षक सम्मान, महामहिम राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी द्वारा राष्ट्रपति उत्कृष्ट शिक्षक सम्मान (2015-16) सहित विभिन्न समाजसेवी संगठनों, साहित्यिक संस्थाओं द्वारा सम्मानित. माध्यमिक शाला में पदस्थ रहते हुए हायर सेकेंडरी स्कूल महारानी लक्ष्मी बाई स्कूल में एन.सी.सी. की शुरुआत की पहल करना एवं सहयोग देना, स्काउट गाइड शिक्षक (रेंजर लीडर) का अतिरिक्त प्रभार ग्रहण करने के बाद इनके मार्गदर्शन में मात्र 4-5 वर्षों में 04 गाइड का राज्यपाल पुरस्कार एवं 03 गाइड का राष्ट्रपति पुरस्कार हेतु चयन होना. वर्ष 2012-13 में देवरी में आदिवासी लोहगढ़िया समुदाय की महिलाओं/पुरुषों को समझाइश देकर 65 बच्चों का नाम सरस्वती शिशु मंदिर स्कूल, देवरी में दर्ज कराया. लोहगढ़िया समाज के लिए एक स्थान पर रहना और बच्चों को स्कूल भेजना, उनके जीवन में पहली बार हुआ था. रुचियां: वृद्धाश्रम, अनाथाश्रम में खाना खिलाना, रेलवे स्टेशन में गर्मियों में जल सेवा करना, जल संरक्षण हेतु घर-घर जाकर समझाइश देना, पौधरोपण तथा वंचित समूहों के सशक्तिकरण के लिए कार्य करना. अन्य जानकारी: शाला त्यागी निर्धन बालिकाओं का शाला में पुन: नाम लिखवाया और नि:शुल्क कोचिंग दी, बालिकाओं को आत्मरक्षा हेतु जूडो-कराटे सिखाया, महिलाओं-बालिकाओं को आत्म निर्भर बनाने हेतु उन्हें सिलाई, कढ़ाई और खिलौने बनाना सिखाया, जरूरतमंद, प्रताड़ित, घरेलू हिंसा से जूझती महिलाओं को नि:शुल्क विधिक सहायता उपलब्ध कराने में मदद की, नाबालिग बालिकाओं के विवाह रुकवाए, 182 गरीब महिलाओं के परिवारों का सर्वे करवा कर अति गरीबी रेखा में उनके नाम जुड़वाये. भारतीय महिला फ़ेडरेशन की (सागर इकाई) संयोजक, प्रगतिशील लेखक संघ, सागर की कोषाध्यक्ष, रुद्र-कमला महिला एवं बाल विकास समिति की संस्थापक, पाठक मंच सागर इकाई की पूर्व प्रथम महिला संयोजक, मदर टेरेसा रेंजर दल की रेंजर लीडर. पता: जी-8/5, जी.ए.डी. कालोनी, परमार रोड, गोपालगंज सागर म.प्र.  ई-मेल: deepabhatt@gmail.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp