डॉ. सुषमा गजापुरे 'सुदिव'

जन्म: 7 मई, स्थान: नागपुर. माता: श्रीमती स्व.सिंधु गजापुरे, पिता: स्व. रामचन्द्र राव गजापुरे. संतान: पुत्री -02. शिक्षा: स्नातक (वाणिज्य). व्यवसाय: पूर्व प्राचार्य (20 वर्ष) संस्कार निकेतन-भोपाल, पूर्व संपादिका- अक्षर शिल्पी साहित्यिक त्रैमासिक-भोपाल, वर्तमान- संपादिका- साहित्य सुषमा एवं बचपन ई-पत्रिका (अव्यवसायिक). करियर यात्रा: साहित्य के प्रति बचपन से ही रूचि रही, कक्षा 6 से ही कविता-कहानियां लिखना शुरू कर दिया था. कक्षा 12वीं से शिक्षिका के रूप में कार्य प्रारंभ. इसी के साथ पत्र-पत्रिकाओं में निरंतर लेखन, आकाशवाणी भोपाल, आकाशवाणी पुणे से साक्षात्कार एवं परिचर्चा का प्रसारण, 3- काव्यसंग्रह एवं 1-शोध पुस्तक प्रकाशित, यूट्यूब चैनल और वेबसाइट का संचालन. उपलब्धियां/पुरस्कार: साप्ताहिक स्तंभ -नवभारत, सामना-मुंबई, फ़ोर्थ पॉइंट दिल्ली, सेन्ट्रल क्रॉनिकल म.प्र., त्याग मित्र-दिल्ली (अव्यवसायिक) आदि में प्रकाशित.सम्मान- विद्या वाचस्पति एवं विद्यासागर उपाधि “विक्रमशिला हिन्दी विद्यापीठ” भागलपुर, हिन्दीतर हिन्दी भाषी सेवी सम्मान- “मध्यप्रदेश राष्ट्रभाषा प्रचार समिति” भोपाल, “रामेश्वर गुरु पुरस्कार”-उत्कृष्ट हिन्दी साहित्यिक पत्रिका हेतु, भारती भूषण, भारती रत्न, श्रीगीत रश्मि, रत्न भारती, सृजनश्री सम्मान, हिन्दी साहित्य भूषण, मानव-कल्याणकारी सेवा पुरस्कार, शिक्षा बोध सम्मान, संस्कारश्री सम्मान, ज्ञानवर्धिनी पुरस्कार, आदर्श समाज उद्बोधन सम्मान, united by ink द्वारा पाठकों द्वारा सर्वाधिक पढ़ी जाने वाली और पसंद की जाने वाली लेखिका का सम्मान सहित अन्य पुरस्कार व सम्मान. रुचियां: किताबें पढ़ना, लेखन, रेखांकन, पेंटिंग, सिंगिंग, पियानो बजाना, संगीत सुनना, आध्यात्मिक कार्यों में रुचि, बागवानी, घर सज्जा. पता:  पुणे ई-मेल: poojasushma443@gmail.com/ sahityasushma7@gmail.com. वेब: www.sahityasushma.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp