डॉ. सुधा मलैया

जन्म: 20 सितम्बर 1952, स्थान: मेरठ. माता: श्रीमती कैलासवती जैन, पिता: श्री शिखरचंद जैन. जीवन साथी: श्री जयंत मलैया. संतान: पुत्र -02. शिक्षा: बी.एस.सी., एम.ए., पी.एचडी. व्यवसाय: कुलाधिपति -एकलव्य विश्वविद्यालय/ चेयरमेन-ओजस्विनी समूह/संपादक- ओजस्विनी मासिक पत्रिका/भाजपा नेत्री. करियर: रघुनाथ गर्ल्स कॉलेज, मेरठ से दसवीं तथा बारहवीं एवं वर्ष 1970 में बी.एस.सी. की पढाई की. इसके बाद वर्ष 1972 में ‘प्राचीन भारतीय इतिहास’ विषय में एम.ए. किया. विवाह के पश्चात वर्ष 1985 में ‘भारतीय कला में नृत्य व संगीत’, विषय में सागर विश्वविद्यालय से पी.एच.डी. की उपाधि प्राप्त की. 1988 में एल.एल.बी. के शोध के लिए भारतीय इतिहास अनुसंधान परिषद (ICHR) तथा विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UCG) की पोस्ट डॉक्टरल फैलोशिप मिली. सांस्कृतिक गतिविधियों में विशिष्ट रूचि होने के चलते स्कूल-कॉलेज के सभी कार्यक्रमों/प्रतियोगिताओं में भाग लिया और अनेक इनाम हासिल किये. सामाजिक और राजनैतिक जीवन में पारिवारिक ज़िम्मेदारियों के साथ सक्रिय रही, राष्ट्रीय स्तर की महिला पत्रिका ‘ओजस्विनी’ की प्रकाशक व संपादक होने के साथ ही एक सफल उद्यमी भी हैं.वर्तमान में एकलव्य विश्वविद्यालय, दमोह में कुलाधिपति का दायित्व सम्भाल रही हैं.  मानसेवी अध्यापक के रूप में सरस्वती शिशु मंदिर, दमोह (1986), मानसेवी प्राध्यापक कन्या स्नातक महाविद्यालय, दमोह (1975), अतिथि प्राध्यापक क्रिश्चियन कॉलेज, इंदौर (1987-89) तथा अतिथि प्राध्यापक माखनलाल चतुर्वेदी विश्वविद्यालय, भोपाल (1992) में कार्य किया. वर्ष 1977 से राजनीति में सक्रिय. शिक्षा के क्षेत्र में कार्य करते हुए इन्होंने वर्ष 2001 में दमोह में ओजस्विनी उत्कृष्टता महाविद्यालय और 2002 में ओजस्विनी प्राथमिक विद्यालय की स्थापना की. महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण हेतु वर्ष 2002 में ही ओजस्विनी गृह उद्योग दमोह की स्थापना की. 2006 में ओजस्विनी नर्सिंग कॉलेज (सागर व दमोह),  2007 में ओजस्विनी इंस्टीट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट एण्ड टेक्नोलॉजी (दमोह) और 2008 में इन्फिनिटी मैनेजमेंट एण्ड इंजीनियरिंग कॉलेज, सागर की स्थापना की. दमोह विधानसभा व लोकसभा चुनाव के प्रबंधन व प्रचार में सक्रिय भागीदारी,  संगठन में पद-प्रभार- प्रदेश महामंत्री-भाजपा महिला मोर्चा म.प्र. (1990-93),  प्रदेश उपाध्यक्ष (1993-98), प्रदेशाध्यक्ष (1998-2000), सदस्य- राष्ट्रीय महिला मोर्चा कार्यसमिति (1991-2001), प्रवक्ता- भारतीय जनता पार्टी, म.प्र. (2007-2008), राष्ट्रीय सचिव- भारतीय जनता पार्टी (2008-2011). उपलब्धियां/पुरस्कार: प्रकाशन- 1. ‘स्त्री है देश’, 2. ‘देश राग’, 3. ‘चाक्षुष यज्ञ’, 4. कुण्डलपुर’  एवं 5. ‘श्रीजा’ 6. ‘भूमिजा’ प्रकाशित.  इसके अलावा 1. ‘स्वयंसिद्धा’ 2. ‘गणतंत्र और 3. स्त्री’ किताबें प्रकाशन प्रक्रिया में. फिल्म निर्माण- रामजन्म भूमि मंदिर: ‘द आर्कियो लॉजिकल एवीडेंस, द सेकरेड अर्थ’. शोधकार्य- नाट्य शास्त्रीय परम्परा के 22 ग्रन्थों के तुलनात्मक एवं विशेषणात्मक अध्ययन पर आधारित नृत्य तकनीक का प्रथम प्रमाणिक अध्ययन.  70 राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय कांफ्रेस, सम्मेलनों में शोध-पत्र वाचन. कला सम्बन्धी कार्यशालाओं का संचालन. सम्मान- वर्ष की ‘सर्वश्रेष्ठ छात्रा’ रघुनाथ गर्ल्स कॉलेज मेरठ, के रूप में ‘बेनी माधव स्वर्णपदक’ से सम्मानित (1972), ऑल राउन्ड प्रोफीशियेन्सी शील्ड, रघुनाथ गर्ल्स कॉलेज, मेरठ से विभूषित (1972), नारी गौरव सम्मान जैन परिषद दिल्ली द्वारा सुश्री किरण बेदी द्वारा (2002), समाज सेवा सम्मान भोपाल, मेरठ गौरव अखिल भारतीय महिला कांग्रेस, मेरठ शाखा, मेरठ (2002), म.प्र. की शीर्ष दस महिलाओं में गणना व सम्मान, महामहिम राज्यपाल द्वारा (2002), भारतीय शिक्षण मण्डल द्वारा सम्मानित, अखिल भारतीय अधिवेशन कानपुर (2000), रोटरी क्लब मेरठ द्धारा सम्मान (2000), म.प्र. राष्ट्रभाषा प्रचार समिति भोपाल द्वारा विशेष सम्मान (2002). विदेश यात्रा: इंग्लैण्ड, वियना, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, हांगकांग,  सिंगापुर, जापान, जर्मनी, अमेरिका, मलेशिया, फ्रांस, थाईलैंड, हालैण्ड, स्विट्जरलैंड, बेल्जियम, डेनमार्क आदि. रुचियां: लेखन, पत्रकारिता, राजनीति, धर्म आदि. अन्य जानकारी: राम जन्मभूमि पर विशिष्ट कार्य-राम जन्मभूमि मंदिर, अयोध्या के अकाट्य प्रमाण शिलालेख तथा पुरातात्विक साक्ष्यों की प्रमाणिक जानकारी देने वाली प्रथम तथा एकमात्र इतिहासज्ञ पत्रकार. खतरों से जूझते हुए 7 दिसम्बर तथा  11 दिसम्बर को कर्फ्यू में जाकर रामजन्म भूमि अभिलेख की फोटोग्राफी, वीडियो शूटिंग की जो राम जन्मभूमि अभिलेख राम जन्मभूमि वाद में न्यायालय में सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण साक्ष्य सिद्ध हुआ. स्त्री, नारी चेतना, स्त्री शक्ति, स्त्री, इतिहास, धर्म, अध्यात्म राजनीति, साक्षात्कार, कला, पर्यटन, राष्ट्रीय महत्व के विषय, ज्वलंत समस्याओं, यात्रा वृतांत आदि तथा स्त्री की ओजस्विता प्रकट करते तटस्थ तथा सकारात्मक एवं ओजपूर्ण लेख प्रकाशित. सुधा मलैया कवियत्री भी हैं. कुछ गीत एवं कविताओं का सर्जन. कहीं-कहीं काव्यपाठ.  वसुधा पब्लिकेशन्स प्रा. लि. की पूर्व अध्यक्ष व प्रबंध संचालक. वर्ष 2018 में कुंडलपुर पर प्रकाशित महत्वपूर्ण पुस्तकें 1. कुंडलपुर बड़े बाबा का, 2. महामस्तकाभिषेक बड़े बाबा का 3. गगनविहार बड़े बाबा का 4. कुंडलपुर छोटे विद्यासागर का. पता: 1. विजय आयल मिल्स, दमोह, म.प्र. 2. ओजस्विनी 103, वसुंधरा बिल्डिंग, सुरेन्द्र प्लेस, भोपाल.

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp