डॉ. शिवा श्रीवास्तव

जन्म: 30 मई, स्थान: अम्बाह (मुरैना). माता: श्रीमती रमन श्रीवास्तव. पिता: स्व. श्री एम.एल. श्रीवास्तव. शिक्षा: एम.ए. (अर्थशास्त्र एवं मनोविज्ञान), पी.एचडी. (पुस्तकालय एवं सूचना विज्ञान). व्यवसाय: शिक्षण एवं पुस्तकालय प्रबंधन, लेखन. करियर यात्रा: वर्ष 1998 से अब तक निरंतर शिक्षण एवं पुस्तकालय प्रबंधन के कार्यों में संलग्न,  साथ ही लेखन कार्य भी जारी रहा. आकाशवाणी से कविता पाठ एवं कैजुअल अनाउंसर और कुछ वर्ष आकाशवाणी पुस्तकालय में भी कार्य किया. इसके अलावा एनजीओ (SACS और राष्ट्रीय एकता परिषद) में कार्य करने का अवसर मिला. वर्तमान में लोहिया सदन पुस्तकालय में निदेशक एवं भोपाल के निजी विश्वविद्यालय में शोधाचार्य साथ ही माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय में गेस्ट लेक्चरर के रूप में कार्यरत. उपलब्धियां/पुरस्कार: ‘गांधी 150’ (2-3 अक्टूबर 2019) पर बिहार सरकार द्वारा किये गए राष्ट्रीय आयोजन के दस्तावेजीकरण एवं पुस्तक के रूप में सम्पादन, ‘लोहिया सदन पुस्तकालय’ की पुनर्स्थापना (आदरणीय श्री रघु ठाकुर जी का व्यक्तिगत संग्रह, जिसे अब पब्लिक लाइब्रेरी बनाया गया है. इस पुस्तकालय में 5 हज़ार पुस्तकें, 2 सौ से अधिक विषयों पर पत्र-पत्रिकाएं, 150 शीर्षकों से अधिक दैनिक, साप्ताहिक, नियमित अखबार एवं मासिक अखबारों का संग्रह). देश की प्रतिष्ठित पत्र-पत्रिकाओं में सामयिक लेख एवं कविताओं का प्रकाशन, अनेक बड़े मंचों से अभिभाषण एवं मंच संचालन तथा कविता पाठ. ऑनलाइन विभिन्न कार्यक्रमों ‘लोकतांत्रिक महिला पंचायत- स्वतंत्रता आंदोलन और महिलाओं की भूमिका’, ‘चर्चा मण्डल – पुस्तकालय में महिला पुस्तकालयाध्यक्षों की भूमिका’, ‘प्रसिद्ध समाजवादी, विचारक, लेखक, श्री रघु ठाकुर पर आधारित अमृत महोत्सव श्रृंखला का संयोजन एवं संचालन, जिसमें देश भर के प्रसिद्ध व्यक्तियों का समागम हुआ. रुचियां: लेखन, पठन-पाठन, नए लोगों से मिलना, गाने सुनना और गाना (विशेष तौर से मेहदी हसन और जगजीत सिंह की गजलें), सितार सुनना, पेंटिंग, सामाजिक और राजनीतिक मुद्दों पर चर्चा, महिलाओं से संबंधित विषयों पर शोध, कारण एवं निवारण, राजनीति के विषयों पर जानना, समझना, सीखना. पता: बी- 72, फाइन कैम्पस, कोलार रोड, भोपाल -42.  ई-मेल: sshrivastava988@gmail.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp