डॉ. मौसमी परिहार

जन्म: 6 मार्च, स्थान: जबलपुर. माता श्रीमती प्रभा देवी, पिता: श्री गोपाल प्रसाद. जीवन साथी श्री विपिन परिहार. संतान: पुत्री- 01. शिक्षा: बी.ए, एम.ए., एम.फिल., बी.एड. करियर यात्रा: हिंदी साहित्य में एम.ए.  करने के बाद ‘हरिवंश राय बच्चन की काव्य भाषा का अध्ययन’ विषय पर पी.एच.डी. रानी दुर्गावती वि.वि. जबलपुर से प्राप्त की. लिखने में रुचि बचपन से थी, लेकिन लेखन को गति विवाह के बाद ही मिली. पति के प्रोत्साहन और सहयोग से इन्होंने अपनी जो साहित्यिक यात्रा आरंभ की, वह कविताओं, लघुकथा, भजन, नवगीत आदि के रूप में सतत जारी है, 2005 में जबलपुर आकाशवाणी में युववाणी कार्यक्रम में युवा कंपेयर के रूप में कार्य किया. वर्तमान में रबीन्द्र नाथ टैगोर वि.वि. भोपाल में हिंदी सहायक प्राध्यापक, हिंदी शोध निर्देशक (पीएचडी) के पद पर कार्यरत है. प्रतिष्ठित विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में रचनाएं प्रकाशित. उपलब्धियां/सम्मान. प्रकाशन- ‘लफ़्ज़ों में सिमटी यादें’  (2018), “मन भर उड़ान” नवगीत संग्रह. इसके अलावा एक काव्य संग्रह और लघुकथा संग्रह पर कार्य जारी. विधायक रामेश्वर शर्मा द्वारा 2016 में शिक्षक दिवस पर शिक्षक सम्मान, “लफ़्ज़ों में सिमटी यादें” के लिये अन्तरशब्दशक्ति विमेंस आवाज सम्मान (2018), अटल नारी सागर सम्मान (2018), मप्र भोपाल दूरदर्शन से प्रसारित काव्यांजलि कार्यक्रम 17 मार्च 2019 में प्रस्तुति, हिंदी रचनाकार मंच द्वारा अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर लक्ष्मी बाई मेमोरियल अवार्ड (2019), मप्र की मासिक पत्रिका साहित्य समीर दस्तक द्वारा महादेवी सम्मान (2018), कथाकार कवि श्री संतोष चौबे जी द्वारा लिखित चर्चित उपन्यास ‘जलतरंग’ के नाट्य मंचन (रविन्द्र भवन 27 अप्रैल 2019) में मुख्य भूमिका, जिसका निर्देशन प्रसिद्ध फ़िल्म निर्देशक श्री अशोक मिश्रा जी ने किया. नवगीत संग्रह “मन भर उड़ान” के लिए म.प्र. हिंदी साहित्य सम्मेलन द्वारा वागीश्वरी सम्मान (2019). अन्य जानकारी: हिंदी लेखिका संघ म.प्र. की कार्यकारणी सदस्य, लघुकथा शोध केंद्र भोपाल म.प्र. में कार्यकारिणी सदस्य के रूप में हिंदी के प्रचार प्रसार हेतु तत्पर, भोपाल से प्रकाशित लघुकथा वृत मासिक समाचार पत्र में सह संपादक, विभिन्न मंचों पर लगातार काव्य पाठ व लघुकथा रचना पाठ कर साहित्यिक गतिविधियों में भी निरंतर सहभागिता जारी. पता: डी के- 1/209, दानिश कुंज,  कोलार रोड, भोपाल म.प्र. ई-मेल: mousmiparihar.mplekhika.sangh@gmail.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp