डॉ. प्रीति समकित सुराना

जन्म: 22 जनवरीस्थान: दुर्ग (छ.ग.). माता: श्रीमती लीला देशलहरापिता: श्री गुलाबचंद देशलहरा. जीवन साथी: समकित सुराना. संतान: पुत्र 02पुत्री 01शिक्षा: पीएचडी (समाजशास्त्र- ‘महिलाओं का राजनीति एवं मानवाधिकार के प्रमुख कारकों का अवलोकन’). व्यवसाय: प्रकाशक/संस्थापक/संपादक- अंतरा शब्दशक्ति‘. करियर यात्रा: 1 अक्टूबर 2019 से अंतरा शब्दशक्ति की रचनाओं का वेब पृष्ठ सृजन शब्द से शक्ति का‘ संपादन एवं प्रकाशन. उपलब्धियां/पुरस्कार: प्रकाशन- कविता संग्रह –1. ‘मन की बात’,  2. ‘मेरा मन’.  आलेख संग्रह- दृष्टिकोण’, कथा संग्रह- कतरा-कतरा मेरा मनव्यंग्य काव्य संग्रह- काश! कभी सोचा होताआलेख पुस्तिका  ‘गद्य लेखन का महत्व. हिन्दी पर विशेष विचार संकलन- विचार क्रांतिपरिवार परिचय –‘जोगराज जी का वंशवृक्षधार्मिक पुस्तिका –‘कर्म इक्तीसासंस्था परिचय – ‘अंतरा शब्दशक्तिमेरे मन की बात- सुनो!टेबल कैलेंडर – ‘छोटी-छोटी बातें. ’आपातकाल में सृजन फुलवारी’, ‘प्रीत के गीत’, सृष्टि मेरे आँचल में’. सम्मान – गुफ़्तगू साहित्य संस्था इलाहाबाद द्वारा सुभद्रा कुमारी चौहान सम्मान‘ (2017), प्रतिमा रक्षा सम्मान समितिकरनाल द्वारा वुमन एम्पॉवरेमेंट अवार्ड‘ (2017), विश्व हिंदी रचनाकार मंच द्वारा हिंदी सागर सम्मान‘ (2017), विश्व रचनाकार मंच द्वारा श्रेष्ठ शब्दशिल्पी सम्मान‘ (2018), सातवें अंतरराष्ट्रीय सोशल मीडिया सम्मेलन में हम सब साथ-साथ द्वारा संस्कृति सारथी सम्मान (2019), काव्यधारा प्रकाशन द्वारा “कवि कोविद (साहित्य श्री) सम्मान (2019), FISA द्वारा रियल सुपर वुमन सम्मान (2020), बेटी है कल है राष्ट्रीय संस्था द्वारा वुमन आइकॉन अवार्ड (2020), ‘आपातकाल में सृजन फुलवारी‘ में 121 किताबों के 51 दिन में प्रकाशन हेतु ग्लोबल बुक ऑफ लिटरेचर अवार्ड्स (2020), फैशन लाइफ स्टाइल मैगज़ीन FL 21 रिकॉर्ड होल्डर्स में सम्मानितटॉप 10 में चयनित एवं सम्मानित (2020), ओएमजी रिकॉर्ड्स द्वारा बी द चेंज‘ अवार्ड (2021), महात्मा गांधी दर्शन सम्मान (2021), एक्सीलेंस लीडरशिप अवार्ड (2021), वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्सलंदन 2020 के गोल्ड एडिशन में नाम सम्मिलित एवं सम्मान. इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स (2020), एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स (2020), वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्सलंदन (2020), ओएमजी रिकॉर्ड बुक (2020), अमेजिंग इंडियंस अवार्ड (2020) में नाम सम्मिलित एवं सम्मान सहित ढेरो पुरस्कार तथा सम्मान प्राप्त. रुचियां: लेखन. अन्य जानकारी: सांध्य दैनिक लोकजंग’ में कविता पृष्ठ का संपादन. 50 से अधिक साझा संकलन संपादित. अंतरा शब्दशक्ति प्रकाशन द्वारा 3 वर्ष में 570 से अधिक लघु पुस्तिकाओं व पुस्तकों का संपादन व प्रकाशन जिनमें से 510 किताबों में ISBN दर्ज है. गुजराती अनुवाद- काश! कभी सोचा होता,..(गुजराती अनुवादक-रक्षित दवे मौन‘). पता: सुराना फैशन, 15, नेहरू चौकवारासिवनीजिला-बालाघाट (मप्र) –31.  ई-मेल: pritisamkit@gmail.comantrashabdshakti@gmail.comवेब: antrashabdshakti.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp