डॉ.अर्चना मुखर्जी

जन्म: 06 जनवरी, स्थान: इंदौर. माता: श्रीमती सुशीला श्रीमाली. पिता: श्री बी.एल.श्रीमाली “शैलाभ”. जीवन साथी: श्री गौतम मुखर्जी. संतान: पुत्र -02. शिक्षा: एम.ए., बी.एड., पी.एच.डी., योग प्रशिक्षित. व्यवसाय: व्याख्याता (फाईन आर्ट्स). करियर यात्रा: एलिमेंट्री एवं इंटर मीडियट ग्रेड परीक्षाएं प्रावीण्य सूची में उत्तीर्ण. बचपन से चित्रकारी एवं लेखन के प्रति रुझान रहा. कलागुरु पद्मश्री “श्रीयुत वि.श्री. वाकणकर जी के सानिध्य में वर्ष 1976-77 में भारती कला भवन उज्जैन में चित्रकला की प्रारम्भिक शिक्षा प्राप्त की. 1983 में शालेय शिक्षा विभाग में फाइन आर्ट्स शिक्षक पद पर नियुक्त. अध्यापन कार्य के साथ-साथ 1985 में भोपाल वि.वि. से ड्रॉइंग एण्ड पेंटिंग विषय में एम.ए. तथा इसी विषय के साथ बरकतुल्लाह वि.वि. से वर्ष 2004 में पीएचडी की उपाधि हासिल की. एकल एवं समूह प्रदर्शनियों में हिस्सेदारी एवं स्वर्ण पदक सहित अनेक परुस्कार हासिल किये.  प्रादेशिक मंचों, आकाशवाणी एवं दूरदर्शन से काव्य पाठ, पत्र-पत्रिकाओं में कविता, लघुकथाओं एवं लेखों का प्रकाशन. दूरदर्शन में अभिनय विभाग की कलाकार, वर्तमान में शास.कमला नेहरू क.उ.मा.वि., भोपाल में व्याख्याता पद पर कार्यरत व चित्रकला में सलंग्न. उपलब्धियां/पुरस्कार: राष्ट्रीय बाल चित्रकला प्रतियोगिता-राज्य में प्रथम, अखिल भारतीय संस्था द्वारा प्रदेश की पांच महिला कलाकारों में सम्मानित (कलाकारों में से एक चयनित कलाकार), म.प्र. तुलसी साहित्य अकादमी संस्थान द्वारा “सराहनीय शिक्षण कार्य से सम्मानित, विश्व हिन्दी रचनाकार मंच द्वारा “हिन्दी सेवी सम्मान”, “अटल साहित्य भूषण सम्मान”, “नारी सागर सम्मान”, “लक्ष्मीबाई मेमोरियल अवार्ड”, “साहित्य सेवी मानपत्र” सहित अनेक सम्मान व पुरस्कार प्राप्त. प्रदर्शनियां- एकल प्रदर्शनी -रंगायन आर्ट गैलेरी (2012), यूनिसेफ द्वारा प्रायोजित “सामूहिक कला प्रदर्शनियां” स्वतंत्रता संग्राम सेनानी के व्यक्ति चित्रों की सामूहिक प्रदर्शनी में स्वराज भवन में हिस्सेदारी, म.प्र.उत्सव श्रृंखला “लोकरंग” में प्रदर्शनी, भारत-भवन-समूह प्रदर्शनी में शिरकत, एन.सी.इ.आर.टी.नई दिल्ली- अंतर राष्ट्रीय कलाकार कैंप (2016), रंगायन कला दीर्घा, भोपाल “कलांजली” समूह प्रदर्शनी (2017), आनंद- 3 में स्वराज भवन में शिरकत (2017), देवलालिकर कला विथिका, इन्दौर (2019), नेहरू ट्रेड सेंटर- मुम्बई. इंटरनेशनल आर्ट प्रदर्शनियों (गोवा, नेपाल, शिमला, उदयपुर) में शिरकत. प्रकाशन: एक मुठ्ठी आकाश, अंजुरी भर सागर (काव्य संग्रह-प्रथम), नारी काव्य सागर (सामूहिक प्रकाशन), ख़ामोश चीख़ों का हलफ़नामा (सामूहिक प्रकाशन). विदेश यात्रा: नेपाल, यूरोप के लगभग ग्यारह देशों की यात्रा. रुचियां: क़लम साधना (लेखन), चित्रकारी, समाज सेवा. अन्य जानकारी: संग्रह – जीवन बीमा निगम (नई दिल्ली), पी.जी.बी.टी. एवं अनेक शैक्षणिक एवं सामाजिक संस्थानों में चित्र-संग्रह. चीन, जापान, अमेरिका एवं योरोपियन देशों में कलाप्रेमी रहवासियों के व्यक्तिगत संग्रह में कलाकृतियां संग्रहित. पता: एफ-110/43,शिवाजी नगर, भोपाल -16 म.प्र. ई-मेल: archana1663@gmail.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp