डॉ. अंजना चक्रपाणि मिश्र

जन्म: 11 जून, स्थान: वाराणसी. माता: डॉ. गिरिजा देवी मिश्र, पिता: पं. श्री ताराशंकर मिश्र. जीवन साथी: श्री चक्रपाणि दत्त मिश्र. संतान: पुत्र -01, पुत्री -01. शिक्षा: एम.ए. (हिन्दी साहित्य- पं.रविशंकर शुक्ल विवि., रायपुर, छग,), पीएचडी. (सूरदास एवं तुलसीदास के कृष्ण भक्ति काव्य का तुलनात्मक अध्ययन विषय पर शोध पत्र), शास्त्री की उपाधि (सम्पूर्णानंद संस्कृत विवि. वाराणसी उ.प्र.), डिप्लोमा इन कम्प्यूटर एप्लिकेशन. व्यवसाय: वेब फोर्टिस में टेक्नीशियन/एच आर एवं विभिन्न विषयों पर स्वतंत्र लेखन. करियर यात्रा: प्रारम्भ में बच्चों को ट्यूशन पढ़ाने से करियर की शुरुआत. इसके बाद कई निजी संस्थानों में काम किया. गत सात वर्षों से वेब फोर्टिस में टेक्नीशियन/एच आर एवं विभिन्न विषयों पर स्वतंत्र लेखन. उपलब्धियां/पुरस्कार: इंदौर में आयोजित अखिल भारतीय महिला साहित्य समागम में रचनात्मक भूमिका, संस्कार मंजरी ग्वालियर द्वारा आयोजित सावन सुंदरी प्रतियोगिता में निर्णायक के दायित्व का निर्वहन, उप्र.की प्रसिद्ध संस्था ‘नन्ही पहल’ द्वारा आयोजित शेड्स ऑफ़ पोएट्री काव्य पाठ प्रतियोगिता में बतौर मुख्य निर्णायक एवं मुख्य वक्ता की भूमिका का निर्वाह., प्रसिद्ध साहित्यिक पत्रिका ‘शब्दाहुति’ के इंदौर में आयोजित विमोचन समारोह में बतौर कवयित्री एवं विभिन्न कार्यक्रमों का संचालन एवं बतौर संचालक सम्मानित. नईदुनिया नायिका क्लब द्वारा आयोजित म.प्र.राज्य स्तरीय  साड़ी स्वैग प्रतियोगिता में तीसरा स्थान. विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं एवं साहित्यिक वेब पोर्टल पर रचनाओं का लगातार प्रकाशन. आकाशवाणी में वार्ताओं का प्रसारण. विदेश यात्रा: अमेरिका. रुचियां: पठन-पाठन, लेखन, साहित्यिक और संगीत के कार्यक्रमों का संचालन, पाक कला, संगीत, तरन्नुम में गीत, ग़ज़ल, फाग गीत, लोक गीत, कजरी की प्रस्तुति आदि. अन्य जानकारी: वामा साहित्य मंच-इंदौर में कार्यकारिणी सदस्य, इंदौर लिटरेचर फेस्टिवल में उल्लेखनीय भागीदारी. पता: 116, सन सिटी, महालक्ष्मी नगर, मेन रोड, पावर हाउस के पास, इंदौर -10.. ई-मेल: mishraanjana806@gmail.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp