जहीना खान उर्फ़ जरीना खान

जन्म: 03 जून, स्थान: चाचौड़ा, (गुना), माता: स्व. अनवरी बेगम, पिता: स्व. बाबू खान. जीवनसाथी: असरार मो. खान, संतान: पुत्र-02, पुत्री-02. शिक्षा: बी.ए. व्यवसाय: दस्तकारी (लगभग 20 वर्षों से समाज सेवा). करियर यात्रा: वर्ष 1998  में स्वयं की संस्था “महिला हस्तकला एवं बाल विकास समिति” प्रारंभ की. तब से लेकर लगातार समाज उत्थान की दिशा में कार्य कर रही हैं. संस्था के माध्यम से पूरे भारत में जगह-जगह स्वास्थ्य विधिक स्वरोजगार, शिक्षा संगठन संस्कार आदि गतिविधियां संचालित की जा रही हैं. उपलब्धियां/पुरस्कार: बुनाई एवं हस्तकला मंडल से डिप्लोमा इन ड्रेस मेकिंग का प्रथम पुरस्कार (1995), मध्यप्रदेश हस्त एवं ललित कलामंडल मध्यप्रदेश राज्य अधिनियम के अंतर्गत) (1995) 1. डिप्लोमा इन फैब्रिक पेंटिंग -द्वितीय पुरस्कार, 2. मेहंदी श्रृंगार कला में डिप्लोमा-प्रथम पुरस्कार, 3. डिप्लोमा इन मशीन एम्ब्रॉयडरी-प्रथम पुरस्कार, उद्यमिता विकास केंद्र मध्यप्रदेश शासन) रेडीमेड गारमेंट (जरी वर्क) प्रमाण-पत्र (1996), विदिशा जिले में महिलाओं को रोजगार से जोड़ने का कार्य करने पर सर्वश्रेष्ठ प्रथम पुरस्कार, अल्पसंख्यक विभाग की योजनाओं से अल्पसंख्यक महिलाओं और पुरुषों को जोड़ने पर सर्वश्रेष्ठ कार्य का पुरस्कार, अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार सुरक्षा दिल्ली से मध्यप्रदेश राज्य की जनरल सेक्रेटरी अधिकृत, मध्यप्रदेश जन अभ्यिान परिषद स्वैच्छिक संगठन संवाद संस्था में लोगों को जोड़ने पर सम्मान व पुरस्कार. विदेश यात्रा: दुबई. रुचियां: पठन-पाठन, खेल, शिल्पकला में नए डिजाइन्स की कलाकृतियां बनाना, कुकिंग. पता: 11/170 नूरी मंजिल, बड़ा बाजार के पास विदिशा 01. ई-मेल: jagrukmahila1999@gmail.com वेब: www. Jagrukmahila.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp