चित्तरूपा पालित

जन्म: 10 फरवरी, स्थान: कलकत्ता. माता: श्रीमती सुलेखा पालित, पिता: बिमल कुमार पालित. शिक्षा: बी.ए., एम.ए. व्यवसाय: सामाजिक कार्यकर्ता. करियर यात्रा: देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी इंदौर से बी.ए., एम.ए. (पॉलिटिकल साइंस) दिल्ली यूनिवर्सिटी से और पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन रूरल मैनजमेंट की डिग्री इंस्टिट्यूट ऑफ़ रूरल मैनेजमेंट आणंद (गुजरात) से प्राप्त की. 1986 से 88 तक महिला जागरण समिति जबलपुर और प्रदान संस्था में कार्य किया. 1988 से 2000 तक खेरुत मज़दूर चेतना संगठन और  1988 से 2020 नर्मदा बचाओ आंदोलन में सक्रिय रहीं. उपलब्धियां/पुरस्कार: महेश्वर, ओंकारेश्वर, इंदिरा गांधी सागर आदि बड़े बांधों के केस में हाई कोर्ट, सुप्रीम कोर्ट तक लड़ाई लड़ी. ओंकारेश्वर केस में हाई कोर्ट से जीत हासिल की. इन्हें हाई कोर्ट द्वारा (10,000 रु.) सम्मानित किया गया. विस्थापितों के लिए उपवास, आन्दोलन करते हुए कड़ा संघर्ष किया और उन्हें उनका वाजिब हक दिलाने में सक्रिय भूमिका निभाई. 2020 में नया संगठन “ग्रामीण अधिकार संगठन” प्रारम्भ कर इसके माध्यम से देश के अनेकों मज़दूर किसानों को उनके अधिकार दिलाने हेतु सतत प्रयासरत हैं. रुचियां: पढ़ना, यात्रा करना, आम लोगों से जुड़कर उनके जीवन को समझना व उनकी मदद करना. विदेश यात्रा:  वाशिंगटन, जर्मनी स्विट्जरलैंड आदि. अन्य जानकारी: पूर्व महिला अध्यक्ष म.प्र. (आप), विधानसभा चुनाव समिति (टिकट वितरण) अध्यक्ष- (आप). पता: सी- 07, फार्च्यून प्रेस्टीज,  बावड़िया कला, भोपाल-26. ई-मेल: nbakhandwa@gmail.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp