गंगुबाई अमलियार

जन्म: 15 मार्च, स्थान: झाबुआ. माता: श्रीमती पूनी बाई. पिता: श्री सुकिया गणावा. जीवन साथी: श्री पांगला अमलियार. संतान: पुत्र- 03, पुत्री-01. शिक्षा: साक्षर. व्यवसाय: पेंटिंग. इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मानव संग्रहालय भोपाल में सेवाएं जारी. करियर यात्रा: बचपन से ही त्योहारों के दौरान काम करते हुए परिजनों से पेंटिंग सीखी. प्रारम्भ में दीवारों और फर्श पर जानवरों-पेड़ों के चित्र उकेरा करती थीं. धीरे-धीरे कैनवास पर पेंटिंग बनाना शुरू किया. उपलब्धियां/पुरस्कार: देश के अनेक हिस्सों में चित्र प्रदर्शनियां आयोजित. राष्ट्रीय ललित कला केंद्र खजुराहो (2005), ललित कला केरल अकादमी त्रिशूर एवं फाइन आर्ट कॉलेज त्रिशूर केरल (अगस्त 2007 एवं अगस्त 08), दरबार हाल आर्ट गैलरी केरला शिविर 2009, त्रिशूर केरला में चित्र प्रदर्शनी (2009), कला मंडल गैलरी धाड़वाड कर्नाटक (2011), साउथ सेंटर जैन कल्चर नागपुर (2011), इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मानव संग्रहालय भोपाल (अगस्त 2011, जून 2012), क्राफ्ट म्यूजियम दिल्ली (2012), ललित कला एर्नाकुलम केरल (2013), चैन्नई (13-14), भारत भवन, भोपाल (फरवरी 2014), नागालैंड (2015), उज्जैन सिंहस्थ (2016), ओजस आर्ट नई दिल्ली (2016) आदि स्थानों पर प्रदर्शनियां आयोजित व शिविरों में शिरकत, केरल छतीसगढ़, म.प्र. सहित देश के अनेक हिस्सों में चित्र कृतियां सम्मानित. रुचियां: पेंटिंग. अन्य जानकारी: इनकी पेंटिंग का विषय गोहारी (मवेशी त्यौहार), गटला (मृतकों का स्मारक) और आदिवासी जीवनशैली के बारे में अधिक है. चित्रकारी के पसंदीदा विषय हिरण, मोर और विवाह समारोह आदि हैं. पता: 8/8, बाणगंगा, टी.टी. नगर, भोपाल- 03. ई-मेल: subhashbhilmp@gmail.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp