कमला रावत मेहरा

जन्म: 03 नवंबर, स्थान: अल्मोड़ा (उत्तराखंड). माता: श्रीमती कल्पना रावतपिता: श्री मोहन सिंह रावत. जीवन साथी: श्री चन्दन सिंह मेहरा. संतान:  पुत्र -01. शिक्षा: एमपी.एड. व्यवसाय: उप पुलिस अधीक्षक, विसबल, भोपाल. करियर यात्रा: 14 साल की उम्र से जूडो खेल का अभ्यास बी.एच.ई.एल., स्पोर्ट्स क्लब में शुरू किया. 1991 में पहला गोल्ड मेडल जूनियर नेशनल लखनऊ में जीता एवं पहला नेशनल कैम्प बाम्बे में सम्मिलित हुई. ताइक्वान्डो भी साथ-साथ खेलते हुए गोवाहाटी में नेशनल चैम्पियनशिप में ब्राउन्स मेडल हासिल किया. 1993 से सीनियर,  नेशनल चैम्पियनशिप में भाग लेते हुए गोल्ड मेडल जीता और तब से लगातार नेशनल चैम्पियन रहीं. वर्तमान में म.प्र. पुलिस विभाग में उप पुलिस अधीक्षक एवं म.प्र. पुलिस विभाग में स्पोर्ट्स प्रभारी के पद पर भोपाल में पदस्थ. उपलब्धियां/पुरस्कार: जूडो फेडरेशन ऑफ इण्डिया द्वारा “बेस्ट जूडोका” सम्मान (1994), विक्रम अवार्ड (1996), इंटरनेशनल जूडो फेडरेशन द्वारा पेरिस में ब्लैक बेल्ट सेकंड डॉन से सम्मानित (1997), विश्वामित्र अवार्ड (2013),  एशियन गेम्स चाईना (2010) में चीफ कोच के रूप में भारतीय जूडो दल का प्रतिनिधित्व, अन्तर्राष्ट्रीय जूडो कोच. लगातार 05 वर्ष तक भारतीय जूडो टीम में चीफ कोच का दायित्व संभाला. एशियार्ड गेम्स और कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत का प्रतिनिधित्व करते हुए सिल्वर मेडल प्राप्त किया. अन्तर्राष्ट्रीय उपलब्धियों में मॉरीशस, बैंकाक, वियतनाम, जापान, कोरिया, पेरिस, जांबिया, इन्डोनेशिया, मंगोलिया, यूरोप, कजाकिस्तान और उजबेकिस्तान में 12 गोल्ड, 01 सिल्वर, 03 ब्राउन्ज मेडल लेकर लगातार चैम्पियन बनी रहीं. विदेश यात्रा: खेल एवं ट्रेनिंग से संबंधित अनेक देशों की 45 बार यात्रा. रुचियां: ड्राइविंग, घूमना और गाने सुनना. अन्य जानकारी: खेल एवं युवा कल्याण विभाग, म.प्र. जूडो अकादमी में सलाहकार एवं चीफ कोच, जूडो खिलाड़ी एवं जूडो कोच के रूप में 45 बार भारतीय जूडो टीम का प्रतिनिधित्व किया. साई स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया द्वारा इनकी खेल उपलब्धियों को दृष्टिगत रखते हुए हॉस्टल नं. 03 भोपाल को इनके नाम पर रखे जाने का प्रस्ताव रखा गया है.  पता: पी -50, सेंट जेवियर ग्राउण्ड  के पास, ऋषिपुरम फेस-1, बीएचईल, बरखेड़ा, भोपाल- 21. ई-मेल: kamlarawat3@gmail.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp