एकता सरीन

जन्म: 17 अक्टूबर, स्थान: बरेली (उप्र). माता: श्रीमती बिमला विरमानी, पिता: श्री हंसराज विरमानी. जीवन साथी: योगेश सरीन. संतान: पुत्र -01. शिक्षा: फैशन डिजाइनिंग (1993) एडवांस साउथ दिल्ली, पॉलिटेक्निक. बी.एड (इंग्लिश- 1996), अन्नामलाई वि.वि. चेन्नई, एम.ए. (इंग्लिश लिटरेचर 2002), बरकतुल्लाह वि.वि. भोपाल, डिप्लोमा इन साइकोलॉजी काउंसिलिंग. व्यवसाय: शिक्षक/भाषा प्रशिक्षक, परामर्शदाता, व्यक्तित्व कोच और रिलेशनशिप एक्सपर्ट. करियर यात्रा: वर्ष 1994 से 98 तक हार्टमैन कॉलेज से व्याख्याता (अंग्रेजी संकाय) के रूप में कार्य शुरू किया. वर्ष 1998 से वर्ष 2008 तक (दो वर्ष मातृत्व अवकाश) कार्मल कान्वेंट स्कूल, वर्ष 2012 से वर्तमान में सेंट जोसफ़ स्कूल में कार्यरत. उपलब्धियां/सम्मान: वर्ष 2018 में भोपाल में ‘किताबखाना भोपाल’ नाम से एक  वाचनालय और गतिविधि केंद्र स्थापित किया, जहां विभिन्न आयु समूहों के लिए लगभग 6 हज़ार पुस्तकों का संग्रह है. विभिन्न मंचों (दूरदर्शन मध्यप्रदेश, यूथ हॉस्टल ऑफ़ इंडिया, ब्रिटिश लाइब्रेरी, प्रसार भारती (ऑल इंडिया रेडियो) आदि) से अनेक कार्यक्रमों का आयोजन और मेजबानी. मध्यप्रदेश दूरदर्शन के ‘गुड मॉर्निंग शो’ में एंकरिंग. ऑल इंडिया रेडियो पर किशोर मुद्दों पर आयोजित एक टॉक शो में शामिल. इंग्लिश विज़ार्ड फ़ाउंडेशन के लिए राज्य स्तरीय परीक्षक के रूप में चयनित. विभिन्न स्कूलों में आयोजित मौखिक परीक्षा में परीक्षक, एम.पी. स्कूल बोर्ड के प्रौढ़ शिक्षा कार्यक्रम में सलाहकार. वाद-विवाद प्रतियोगिताओं में अनेक पुरस्कार प्राप्त. स्कूल-कॉलेज में बैडमिंटन टीम कप्तान रहते हुए इंटर यूनिवर्सिटी का प्रतिनिधित्व. माउंट लिटेरा ज़ी स्कूल, जबलपुर द्वारा सर्टिफाइड शिक्षक प्रमाण पत्र. माइक्रोबायोलॉजिस्ट सोसाइटी, इंडिया, एम.पी. स्टेट चैप्टर द्वारा सम्मानित. ‘थिंक बिग लाइव बिग’ विषय पर छात्रों को प्रशिक्षण देने के लिए राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय, गांधी नगर, गुजरात द्वारा सम्मान व प्रमाण पत्र. विभिन्न स्कूलों, जवाहर विवेकानंद लाइब्रेरी और नर्सिंग कॉलेज (एम्स भोपाल) में अनेक प्रतियोगिताओं में जज के रूप में उपस्थित. रुचियां: बागवानी, संगीत, ट्रेकिंग, तैराकी, वाद-विवाद. पक्षियों जानवरों की देखभाल और उनके साथ समय बिताना. अन्य जानकारी: किताबखाना भोपाल के जरिये लेखकों, पुस्तक पर चर्चा, कहानी, ओपन माइक, कार्यशालाएं, भाषा खेल (पढ़ना, बोलना, सुनना और लिखना) जैसी विभिन्न गतिविधियों का निशुल्क आयोजन. मार्च 2021 से ‘किताबखाना भोपाल’ ऑनलाइन उपलब्ध. लॉकडाउन के दौरान ‘किताब खाना’ सक्रिय रहा और कई छात्रों तक पहुंचा. विभिन्न जागरूकता कार्यक्रमों (पर्यावरण दिवस, विश्व गौरैया दिवस, वरिष्ठ नागरिक दिवस, मातृ दिवस, पितृ दिवस, भव्य दिवस दिवस आदि) का आयोजन. छात्रों की शिक्षा, बच्चों और वयस्कों के आध्यात्मिक संवर्धन, मानसिक और मनोवैज्ञानिक कल्याण, पर्यावरण और जीवन कौशल आदि के लिए विशेषज्ञों द्वारा मार्गदर्शन. वरिष्ठ नागरिकों के लिए काम करते हुए हर साल एक विशेष कार्यक्रम (ब्रिजिंग जनरेशन) का आयोजन, जहां बच्चों, माता-पिता और दादा-दादी को आपस में मिलाकर जोड़ने का प्रयास. रोगियों के लिए (विशेष रूप से कैंसर रोगियों के लिए) सोल टू सोल का आयोजन. महामारी के दौरान पीड़ित हथकरघा बुनकरों को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार के विकास आयुक्त हथकरघा के सहयोग से एमपी हस्तशिल्प और हथकरघा विकास निगम (मृगनयनी) द्वारा आयोजित कार्यक्रम में गौहर महल में रैम्प वॉक. पता: फ्लैट- एच, आदित्य टॉवर- 231- सी सेक्टर, साकेत नगर भोपाल -24. ई-मेल: eaktaanav@gmail.com, kitabkhanabhopal@gmail.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp