उमा रानी चतुर्वेदी (चौबे)

जन्म: 25 मई, स्थान: शिवपुरी (म.प्र.). माता: श्रीमती शकुन्तला देवी चतुर्वेदी, पिता: स्व. श्री रामेश्वर प्रसाद चतुर्वेदी. जीवन साथी: स्व. श्री गजेन्द्र चतुर्वेदी. शिक्षा: एम.ए. (समाज शास्त्र) कम्प्यूटर डीसीए, हिन्दी-इंग्लिश टाइपिंग मध्यप्रदेश शासन से उच्चतर श्रेणी में पास. व्यवसाय: निदेशक“सहयोग” संस्था, सामाजिक कार्य. करियर यात्रा: स्कूल की पढाई माध्यमिक विद्यालय कमलागंज शिवपुरी से की. फिर फॉर्म भरकर हायर सेकेंडरी (प्रायवेट) करने के बाद ही शिक्षा पर विराम लग गया. इसी बीच टाइपिंग और सिलाई का कोर्स किया और विवाह हो गया. 1999 में पति का एक एक्सीडेंट में देहांत हो गया. इसके बाद एक निजी स्कूल में लगभग एक साल टीचिंग की फिर नेहरू युवा केन्द्र शिवपुरी में महिलाओं को निशुल्क सिलाई की शिक्षा देना प्रारंभ किया. एक वर्ष बाद भारत सरकार द्वारा संचालित परिवार नियोजन के एक कार्यक्रम में महिलाओं को प्रशिक्षण देने का कार्य मिला, यहां दो साल कार्य किया फिर मध्य प्रदेश सरकार द्वारा संचालित इंदिरा गांधी गरीबी हटाओ योजना (शिवपुरी जिले के कोलारस वकासखण्ड) में कार्य किया. 2003 में मध्य प्रदेश के सीधी जिले में एक सामाजिक संस्था में लगभग दो साल कार्य किया. इसके बाद राइट टू फूड कैम्पेन की एक साल की फैलोशिप पर कार्य किया. अच्छा कार्य करने के कारण लगातार तीन साल तक फैलोशिप बढ़ाई गई. मध्य प्रदेश के शयोपुर जिले में कुपोषण पर बेहतरीन कार्य किया. वर्ष 2004 में “सहयोग” नामक स्वयं की एक सामाजिक संस्था का गठन किया और इसी के साथ पढ़ाई भी शुरू की. पहले बी.ए. फिर एम.ए. किया. 2008 में स्वयं की संस्था को कार्य मिलना प्रारंभ हुआ तो सहयोग सपोर्ट इन डहव्लपमेंट के लिए शयोपुर और शिवपुरी जिले में कार्य करना प्रारंभ कर दिया इसी के साथ “सहयोग” संस्था के बैनर के साथ पीड़ित/शोषित महिलाओं के हक की लड़ाई लड़ी जाने लगी और आदिवासियों के भूख-पोषण, स्वास्थ्य, शिक्षा जैसे तमाम मुद्दों पर कार्य करने का अवसर प्राप्त हुआ. उपलब्धियां/पुरस्कार: “सहयोग” संस्था प्रारम्भ करना. अनेक संस्थाओं द्वारा अनेक बार पुरस्कार देने व सम्मानित करने की पेशकश की गई, लेकिन इन्होंने अस्वीकार कर दिया. विदेश यात्रा: नेपाल. रुचियां: समाज सेवा, समता मूलक समाज की स्थापना करने हेतु निरंतर कार्य करना. अन्य जानकारी: 2003 में एक 13 साल की बच्ची के साथ बलात्कार के केस में लम्बी न्यायिक लड़ाई लड़ी और पीड़िता को कोर्ट से न्याय दिलाया. पता: सहयोग- सपोर्ट इन डव्ह्लपमेंट, राजवाड़ा कोठी के पीछे, तुलसी नगर, झांसी तिराहा, शिवपुरी-51. ई-मेल: umasahyog@gmail.com, sahyogorganization@gmail.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp