आरती तिवारी

जन्म: 8 जनवरी, स्थान: पचमढ़ी. माता: श्रीमती शांति देवी, पिता: श्री शंकरलाल जी. जीवन साथी: श्री रविंद्र तिवारी. संतान: पुत्र -01. शिक्षा: बीएससी, एम.ए., बी.एड. व्यवसाय: स्वतंत्र लेखन. करियर यात्रा: पूर्व शिक्षिका केंद्रीय विद्यालय पचमढ़ी, विवाह पश्चात मन्दसौर के एक निजी स्कूल में कुछ समय अध्यापन कार्य. वर्ष 2003 से लेखन कार्य जारी. उपलब्धियां/पुरस्कार: प्रकाशन- पहला काव्य संग्रह ‘तब तुम कहाँ थे ईश्वर’ (2018). पत्र लेखन के माध्यम से लेखन शुरू हुआ. इसके बाद प्रतिष्ठित समाचार पत्र, साहित्यिक पत्रिकाओं में कविताएं, कहानी, संस्मरण और आलेख (नई दुनिया दैनिक भास्कर, वागर्थ, कादम्बिनी, कथादेश, जनसत्ता, प्रभात खबर, अक्सर, निकट, अक्षर पर्व, जनपथ, आकंठ, इंद्रप्रस्थ भारती, विभोम स्वर, पुरवाई, बिपाशा, आजकल, कथाक्रम, बया, रविवार, यथावत, माटी, दैनिक जागरण, दोआबा, जनसंदेश आदि) लगातार प्रकाशित. आकाशवाणी इंदौर से एकल काव्य पाठ, कहानी पाठ तथा वार्ताएं प्रसारित. मराठी, पंजाबी, उड़िया, उर्दू, गुजराती, नेपाली, अंग्रेज़ी भाषाओं में कविताओं का अनुवाद देश व विदेश की कई पत्रिकाओं में प्रकाशित. कुछ महत्वपूर्ण विशेषांकों एवं साझा संग्रहों में रचनाएं शामिल. सम्मान- वर्ष 2014 में अभिव्यक्ति साहित्यिक सांस्कृतिक संस्था द्वारा अंशु जोशी सम्मान, एक साझा संग्रह  में शामिल साथियों के साथ वर्तिका सम्मान, मंदसौर महिला बाल विकास द्वारा अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर सम्मानित. रुचियां: लेखन, कुकिंग, संगीत, पढ़ना. अन्य जानकारी:  बालिकाओं के उत्थान के लिये काम करने वाली मंदसौर की कुछ सामाजिक-साहित्यिक संस्थाओं में सहभागिता. प्रकृति से जुड़ाव होने से पर्यावरण संरक्षण के कार्यों में संलग्न. पता: 36, मंगलम विहार, किटियानी सोनी ऑटो डील के पास, मंदसौर -01(मप्र). ई-मेल: atti.twr@gmail.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp