आरती चित्तौड़ा पाराशर

जन्म: 10 सितम्बर, स्थान: इंदौर. माता: श्रीमती रजनी पाराशर, पिता: श्री भगवान दास पाराशर. जीवन साथी: सुनील चित्तौड़ा. संतान: पुत्र -02. शिक्षा: एम.ए.( हिन्दी साहित्य), देवी अहिल्या वि.वि. इंदौर, बेचलर ऑफ़ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन. व्यवसाय: स्वतंत्र लेखन. करियर यात्रा: वर्ष 1998 से 2003 तक आकाशवाणी केंद्र इंदौर में ‘युववाणी’ कार्यक्रम में कम्पीयरर, वर्ष 2000 से 03 स्वाश्रयी महिला संघ (सेवा) में पब्लिकेशन इंचार्ज, वर्ष 2017 से 2020 तक कमलाबाई चैरिटेबल ट्रस्ट जयपुर में सेवाएं और लेखन कार्य, वर्ष 2014 से 2016 तक सुरममन बालाश्रम, जयपुर से प्रकाशित बोगनवेलिया पत्रिका की उप-संपादक, वर्तमान में सामाजिक संस्थाओं के लिए शार्ट वीडियो में स्क्रिप्ट और संगीत सहित लेखन कार्य जारी. उपलब्धियां/पुरस्कार: विचार प्रवाह मंच द्वारा प्रकाशित लघुकथा संग्रह में पांच लघुकथाओं का प्रकाशन, नई दुनिया, दैनिक भास्कर, दैनिक नवभारत, स्वदेश, अग्निबाण, नवोदय टाइम्स, ‘सुबह- सवेरे’ आदि समाचार पत्र-पत्रिकाओं में लेख, कहानियां, लघु कथाएं प्रकाशित, रेडियो वेरिटास एशिया के लिए स्क्रिप्ट राइटिंग. अन्य जानकारी: आनंदकुंज वृद्धाश्रम में सेवा कार्यों में सक्रिय. वामा साहित्य मंच की साहित्यिक गतिविधियों में सक्रिय भागीदारी: रुचियां: लेखन और भ्रमण. पता: 89, अशोकनगर, निवारू रोड, झोटवाड़ा, जयपुर -12. ई-मेल: aartichittora5@gmail.com

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp