अंबिका बेरी

जन्म: 25 फरवरी, स्थान: जालंधर. माता: श्रीमती रानी सभरवाल, पिता: श्री सूरज प्रकाश सभरवाल. जीवन साथी: श्री संजीव बेरी. संतान: पुत्र -02. शिक्षा: सीनियर कैम्ब्रिज एग्जामिनेशन (1975), तीन वर्षीय टेक्सटाइल डिज़ाइनर डिप्लोमा (1978). व्यवसाय: डायरेक्टर- ‘इचौल’ आर्ट गैलरी एवं कला संस्थान/समाजसेविका. करियर यात्रा: वर्ष 1990 में कलकत्ता में ‘गैलरी संस्कृति’ नाम से आर्ट गैलरी की स्थापना की. इसके माध्यम से पहले पश्चिम बंगाल और फिर पूरे देश के (आधुनिक, समकालीन चित्रकार, शिल्पकार आदि) कलाकारों को अपनी कला प्रदर्शित करने के लिए एक मंच प्राप्त हुआ. इस आर्ट गैलरी के माध्यम से अब तक अनेक प्रदर्शनियों और कार्यशालाओं का आयोजन किया जा चुका है. करीब 25 वर्ष तक इसका संचालन करने के बाद वर्ष 2015 में मैहर के छोटे से गांव इचौल में ‘आर्ट इचौल’  कला संस्थान की स्थापना की. इस आर्ट गैलरी में देश-विदेश से कलाकार आकर कार्यशालाओं के माध्यम से स्थानीय बच्चों और महिलाओं को विभिन्न कलाओं से अवगत कराते हैं. विदेशी कलाकार हड़प्पा संस्कृति के बर्तन, मूर्तियां और साज-सज्जा का सामान बनाते हैं. भारत के अलावा कोरिया, जापान, अमेरिका और इंग्लैंड के कलाकार इस गैलरी में अपनी कला बिखेरते हैं. उपलब्धियां/पुरस्कार: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कर कमलों द्वारा ‘स्टेट अवार्ड’ (2015), लोकसभा अध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा महाजन द्वारा ‘नेशनल अवार्ड’ (2016), राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद के करकमलों से ‘नारी शक्ति अवार्ड’ (2018), मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा ‘देवी अवार्ड’ (2020) सहित स्थानीय स्तर पर अनेक सम्मान व पुरस्कार प्राप्त. विदेश यात्रा: अमेरिका,  फ्रांस, थाईलैंड, चाइना, जापान. रुचियां: भारत की संस्कृति और सभ्यता से जुड़े सभी कार्य, विशेष रूप से कला संबंधी. अन्य जानकारी: भारतीय सांस्कृतिक निधि (इंटेक) के मैहर-सतना चैप्टर की संयोजक. गणेश पाइन, बिकाश भट्टाचार्य, परितोष सेन, लालू प्रसाद शॉ, गणेश हलोई आदि बंगाल के सुप्रसिद्ध कलाकार इनकी आर्ट गैलरी से आरंभ से जुड़े रहे. ‘आर्ट इचौल’ भारत का इकलौता रचनात्मक आश्रय है, जहां क्राफ्टिंग से लेकर ऑर्गेनिक पेंटिंग, मिट्टी, धातु के खिलौने बनाना, कबाड़ के सामान से कलाकृतियां बनाना सिखाया जाता है. इससे महिलाओं और बच्चों में कला कौशल का विकास हो रहा है और वे आत्मनिर्भर हो रहे हैं. इसी आधार पर अंबिका का चयन राष्ट्रपति पुरस्कार (नारी शक्ति पुरस्कार) के लिए किया गया. पता: एनएच-7, रीवा रोड, मैहर,  जिला- सतना -71. ई-मेल: ambica.beri@gmail.com. वेब: www.gallerysanskriti.com/www.artcol.in

Facebook

Twitter

Instagram

Whatsapp